KADLI KE PAAT कदली के पात

चतुर नरन की बात में, बात बात में बात ! जिमी कदली के पात में पात पात में पात !!

81 Posts

3605 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 875 postid : 167

कौन बनेगा ब्लागपति ?

  • SocialTwist Tell-a-Friend

कौन बनेगा ब्लागपति ?

राम कृष्ण खुराना

पंजाब में बिजली का बडा पंगा है ! यहां लाईट कब चली जाय कुछ पता ही नहीं चलता ! आज भी लाईट दोपहर एक बजे चली गई थी ! अब आई है साढे चार बजे ! दिन में कई बार लाईट आती-जाती रहती है ! देखना अगले चुनाव में इस सरकार को बिजली का तगडा झटका लगने वाला है ! मेल चेक करने लगा तो निगाह जागरण जंकशन की मेल पर गई ! टाप–20 में आने के बाद से ही ब्लागस्टार बनने के सपने देखता रहता हूं ! जागरण जंकशन की मेल देखकर मेरा दिल जोर-जोर से धडकने लगा ! मुझे लगा कि इस मेल में मेरे प्रथम आने के बारे में ही सूचना है ! मैंने प्रभु का स्मरण किया ! मन ही मन मन्दिर में प्रशाद चढाने का वादा किया ! कांपते हाथों से मेल पर सिंगल क्लिक किया ! नीचे बाक्स में कुछ लाईने उभर आईं ! एक बार फिर आंखे बन्द करके भगवान से कांटेस्ट में प्रथम आने की प्रार्थना की और मन्दिर में प्रशाद चढाने की राशि दुगनी कर दी ! धीरे-धीरे आंखे खोल कर माऊस से स्क्रोल किया तो नीचे लिखी पंक्तियों पर निगाह गई
आदरणीय जागरण जंक्शन ब्लॉगर,
आपका नाम जागरण जंक्शन ब्लॉग स्टार कॉंटेस्ट के लिए टॉप 20 में शामिल किए जाने के कारण हमें आपसे आपकी कुछ व्यक्तिगत जानकारियों की अपेक्षा है.

जागरण जंकशन वाले मेरी व्यक्तिगत जानकारी चाहते थे ! यानि कि……यानि कि…..भगवान ने मेरी सुन ली ! मैं ब्लागस्टार बन गया ! मैं कांटेस्ट में जीत गया ! वरना जागरण वालों को क्या जरूरत पडी थी मेरी व्यक्तिगत जानकारी मांगने की ? वो लोग खाली थोडे ही बैठे हैं कि सबकी जानकारियां मांगते फिरें ! दुनिया भर से हजारों लोगों ने इस कांटेस्ट में भाग लिया है ! यदि उन्होंने मुझसे जानकारी मांगी है तो इसका मतलब है कि मैं ही विजेता हूं ! वरना वो मेरा डाटा अपने कम्प्यूटर में क्यों फीड करने लगे ? जरूर उन्होंने मुझे ही प्रथम पुरस्कार दिया है ! अभी वो मुझे बताना नहीं चाहते होंगें ! फिर वो मेरे परिचय के साथ नाम घोषित करेंगें ! अखबार में मेरी फोटो को बडी करके 10X4 कालम में फ्रंट पेज पर जहां आजकल प्रधानमंत्री जी की फोटो छ्पती है वहां मेरी फोटो छापेगें ! वो भी पूरे विवरण के साथ ! यह सोच कर बस मुझे तो जैसे पंख लग गए ! मेरा रोम-रोम पुलकित हो रहा था ! मेरे तो जैसे पैर ही ज़मीन पर नहीं पडते थे ! मैंने उस मेल को इससे आगे पढने की और ज्यादा समझने की कोशिश ही नहीं की ! मुझे आगे कुछ सोचने समझने की जरूरत ही क्या थी ? मैं तो ऊंची-ऊंची हवाओं में उडने लगा था ! मुझे कुछ और सूझ ही नहीं रहा था ! अब दुनिया को पता चलेगा कि मैं क्या चीज़ हूं ! यह जो अदिति कैलाश की चाची है न मुझे बात-बात पर डांटती रहती है ! अब तो आदत सी पड गई है ! 37 साल का अनुभव है मुझे बीवी से डांट खाने का ! लेकिन अब मैं इसका बुरा नहीं मानता ! कारण जानने के लिए आप कृप्या मेरी कविता हाय प्यारी लगती है देखें ! फिर अभी मैंने अपने ब्लाग में नई कविता पोस्ट की है चाचा का बाऊंसर जिसमें मैंने सभी ब्लागर्स से बुरा न मानने की अपील की है ! फिर मैं क्यों बुरा मानने लगा ! वो पंजाबी में एक कहावत है न कि – “चिक्कड दे तिलके दा ते रन्न दे झिडके दा गुस्सा नईं करी दा” यानि कि अगर कोई कीचड में फिसल जाय अथवा बीवी झिडकी लगाए तो उसका बुरा नहीं मानना चाहिए ! क्योंकि कीचड में फिसलने पर किसी का कोई बस नहीं होता और बीवी के आगे हर पति बेबस होता है ! तो मैं कह रहा था कि अब अदिति की चाची को भी पता चल जायगा कि मैं भी कुछ हूं ! वरना वो तो मुझे टके के भाव भी नहीं समझती ! यह सोचते-सोचते दिल में ख्याल आया कि फोन करके पत्नी को भी यह खुशखबरी दे दूं !

मैंने झट से मोबाईल उठाया और पत्नी को फोन लगाया ! मैंने उसे बताया कि मैं जागरण जंकशन कांटेस्ट में प्रथम आया हूं ! फिर मैं अपनी ओर से लम्बी-लम्बी छोडते हुए पूरा विवरण देने लगा ! मैंने उसे मन्दिर में प्रशाद चढाने की राशि दुगनी करने वाली बात भी बता दी ! मैं इतना उत्साहित था कि मेरे फोन पर बात करने की आवाज़ मेरे साथ बैठे वर्मा जी ने सुन ली ! फिर क्या था सिगरेट के धुंए की तरह यह बात धीरे-धीरे सारे आफिस में फैल गई ! आफिस में खुसर-फुसर होने लगी ! सभी सहयोगी मेरे पास इकट्ठे होने लगे ! वो मिसेस शर्मा जो कभी मुझसे सीघे मुंह बात नहीं करती थी खुद चल कर मेरे पास आई और मुझसे बकायदा हाथ मिला कर मुझे बधाई दी ! मिसेस खन्ना, जिससे पिछले सात दिनों से मेरी बोलचाल बन्द थी, ने भी मुझे बडी गर्मजोशी से विश किया ! कार्यालय के सभी सहयोगी अपने-अपने चेहरे पर मेरे व्यंग मैं मुखौटे बेचता हूं की तर्ज पर हंसी वाले कोमल मुखौटे लगा कर मुझे बधाई देने आने लगे ! कई लोगों ने गिला किया कि उन्हें तो पता ही नही था कि मैं लेखन जैसे फिजूल कामों में भी मुंह मार लेता हूं ! कुछ लोगों ने मुझ पर छुपा रुसतम होने का इल्ज़ाम भी लगा दिया ! मैं सिर झुकाए शरमाने की एक्टिंग करता हुआ सबकी बधाईय़ां स्वीकार कर रहा था ! उधर मिठाई की मांग जोर पकडने लगी थी ! आफिस के लोगों का तो यह रवैया हो गया है कि उन्हें तो मिठाई खाने का कोई न कोई बहाना चाहिए उनका सिद्धांत तो यह है कि आप हंस रहे हैं तो मिठाई खिलाओ, आप रो रहे हैं तो मिठाई खिलाओ उन्हें तो मिठाई खाने से मतलब है कारण कुछ भी हो ! मिठाई के चक्कर में मेरा लाल रंग का 1000 रूपये का नोट गडूं हो गया !
इसी बीच ख्याल आया कि तीनों बेटियों व दामाद साहबान को भी फोन कर दूं ! वरना वो ता-उम्र ताना मारते रहेंगें कि हमें बताया नहीं ! खासकर दामाद तो मुझे छोडेगें ही नहीं ! आप लोग तो जानते ही हैं कि दामाद लोगों का भी एक खास दर्जा होता है ! एक खास ठसक होती है ! उनकी एक अलग जमात होती है ! वो ससुराल से कभी खुश नहीं होते ! उन्हें तो नाराज़ होने का जन्मसिद्घ अधिकार प्राप्त है ! जी हां, मुझे तो इसका अच्छा खासा अनुभव भी है ! क्योंकि मैं भी किसी का दामाद हूं ! अब जैसा बोया वैसा ही तो काटेगें ! भगवान ने तीन बेटियां दी हैं तो निभाना तो पडेगा ही ! बडी बेटी तो यहीं लोकल ही लुधियाना में है ! उनका अच्छा बिज़नेस है ! मझली अमृतसर में है ! आजकल गर्मियों की छुट्टियों में अपने बेटे के साथ हमारे पास आई हुई है ! सबसे छुटकी के पति ग्रीस में हैं ! पिछ्ले डेढ-दो साल से वहां मन्दा चल रहा है ! यूरो की कीमत दिन-ब-दिन गिरती जा रही है ! सो अब वे लोग कनाडा जाने के लिए प्रयासरत हैं ! बेटी का ससुराल लुधियाना के नज़दीक ही है ! वो कभी अपने सास-ससुर की सेवा करने अपने ससुराल चली जाती है तो कभी हमारे घर आ जाती है ! आजकल वो भी यहीं है !

सबसे पहले बडी बेटी को फोन लगाया ! अभी मैंने बात शुरू की ही थी कि फोन कट गया ! देखा कैश कार्ड के पैसे खत्म हो गए थे ! आफिस के छोटू को 500 रूपये देकर रिचार्ज कराने के लिए भगाया !
अब ऐसे माहौल में आफिस में काम तो हो नहीं सकता था ! सो छुट्टी लेकर घर चला आया ! घर में खुशी का माहौल था ! हर तरफ रौनक थी ! शादी का घर लग रहा था ! पत्नी और बेटियां पता नही किस-किस को यह खुशखबरी देने के लिए फोन पर व्यस्त थीं ! टेबल पर पांच तरह की मिठाईयां, तीन तरह के नमकीन और चार प्रकार के बिस्कुट सजे हुए थे ! कोल्ड ड्रिंक की बोतलें खाली हो रही थी ! मोहल्ले की औरतें जल्दी-जल्दी बधाई देने की औपचारिकता निभा कर टेबल के साथ चिपक जाती थीं ! अपने खेलते हुए बच्चों को खींच-खींच कर टेबल से मिठाईयां और बिस्किट उठाकर ठूस-ठूस कर जबर्दस्ती खिला रही थीं ! वो सोचती थीं कि शायद यह मौका फिर मिले न मिले !

मुझे एकदम ख्याल आया कि जागरण वालों को ई-मेल का जवाब भी तो देना है ! मैं अपने कमरे का दरवाजा बन्द करके कम्पयूटर आन करके बैठ गया ! झट से मेल खोल कर रिपलाई का बटन दबा दिया ! नीचे से सारे प्रश्न जो जागरण वालों ने पूछे थे कापी पेस्ट किए और लगा एक-एक प्रश्न का उत्तर देने

पहले उन्होंने पूछा – आपका पूरा नाम

मैंने लिख दिया – राम कृष्ण खुराना !

नाम लिखने के बाद ख्याल आया कि मैं ब्लागस्टार बन गया हूं ! सीधा सिम्पल नाम लिख देने से काम नहीं चलेगा ! कोई अच्छा सा धांसू डिज़ाईनदार फांट होना चाहिए ! बडे साईज़ में बढिया सा दिखना चाहिए ! आखिर टाप ब्लागस्टार का नाम है ! जब फांट खोजने निकले तो कोई फांट हमारी नाक के नीचे ही नहीं आ रहा था ! सभी फांट एक-एक करके रिजेक्ट हो रहे थे ! आधे-पौने घंटे की मशक्कत के बाद बडी मुश्किल से मुझे फांट और साईज़ पसन्द आया ! फिर कम्पयूटर में जितने भी कलर थे सब पर क्लिक करके देख लिया ! आधा घंटा सिर खुजाने के बाद गहरे लाल रंग पर मन टिका ! उसके बाद पता, जन्म तिथि आदि भर दिया ! अंत में आई ‘फोटू’ की बारी ! जागरण वालों ने फोटू भी मांगा था !

यह फोटू की भी बडी समस्या है ! इस ब्लाग पर फोटू चिपकाना भी युद्ध जीतने के बराबर है ! पहले तो मुझे भी परेशानी आई थी ! फिर दूसरे दिन आशीश राजवंशी जी के सहयोग से मैंने अपनी फोटू चिपका दी ! जागरण वाले बुजुर्गों पर शायद कुछ मेहरबान हैं ! क्योंकि सुना है कि बच्चों वाली फोटू चिपकाने में कम से कम 5-7 दिन लग ही जाते हैं ! उधर मिश्रा जी अपनी फोटू चिपकाने के लिए बहुत परेशान थे ! सारे ब्लागरों में हाय तौबा मची हुई थी ! मैं आपको अन्दर की बात बता रहा हूं ! जब मिश्रा जी की फोटू लाख कोशिश करने पर भी अपलोड नहीं हुई तो उन्होंने मेरी रचना भगवान शंकर –महाशक्ति पढी ! जब सब लोग सो जाते थे तो मिश्रा जी रात को अपने घर में बने मन्दिर में जाकर रोज़ दो घंटे शंकर भगवान की मूर्ती के आगे बैठ कर कठोर तपस्या करते थे ! कई महीनो की कठिन तपस्या के पश्चात भगवान शंकर से “फोटू अपलोड भवः” का वरदान प्राप्त किया ! तब जाकर उनकी फोटू ब्लाग पर अपलोड हुई है ! यह बात आप किसी और को मत बताना ! क्योंकि मिश्रा जी बुरा मान जांयेगे यह उनका निजि मामला है !

हां, बात जागरण में मेरी फोटू देने की चल रही थी ! यहां फिर दिमाग ने काम करना बन्द कर दिया ! अरे ब्लाग पर जो मेरी फोटू लगी है वो भी कोई फोटू है ! पुरानी, बासी, सडी हुई ! फोटू है या “सादा जीवन उच्च विचार” का पोस्टर ! नहीं-नहीं यह फोटू मैं वहां नही भेज सकता ! भई, मैं ब्लागस्टार हूं !
झट से पत्नी को आवाज लगाई ! पत्नी के साथ-साथ मेरे व्यंग आदमी की पूंछ की तर्ज पर मेरी पूंछ यानि तीनों बेटियां भी अन्दर आ गईं ! मैंने पत्नी से पूछा – “घर में कोई मेरी अच्छी सी फोटू है ? जागरण में भेजनी है !”

“यह क्या गंवारों जैसी भाषा बोलते रहते हो !” पत्नी फोटू शब्द पर भडक उठी – “फोटो नहीं कह सकते क्या ?”
”अरी भागवान, “फोटू” शब्द जागरण जंक्शन का ट्रेडमार्क है ! इसी शब्द से पह्चान होती है कि हम इस ब्लाग के लिखाडी हैं !” मैंने पत्नी को समझाया – “जैसे कि कोई बडा-पाव की बात करते हुए ‘इधर कायकू जाता’ बोले तो पता चल जाता है कि आदमी मुम्बई में झख मार कर आया है ! ‘केम छो, मज़ा मा छो’ कहते ही गुजरात के मोदी साहब याद आने लगते हैं ! वो कौन सा गाना है ‘अमी तुमाको भालो भाशी’ गाते ही बंगाल के रसगुल्ले आंखों के सामने नाचने लगते हैं ! मक्की की रोटी और सरसों का साग तो हमारे प्यारे पंजाब की शान है, पह्चान है इसी प्रकार से जागरण जंक्शन में “फोटू” कहने का रिवाज़ है !”
मेरे इतने लम्बे-चौडे लैक्चर को सुनकर पत्नी बोर हो गई और आंखे तरेर कर बोली – “आपकी कोई नई-नई शादी हुई है क्या जो आपकी फोटो घर में सजा कर रखी होगी !”

कोई बात नही, जागरण के लिए हम नई फोटू खिंचवायेगें ! सोचते ही मुंह पर हाथ फेरा तो गालों पर कील जैसे उभरे बाल चुभने लगे ! ओह आज मैंने शेव नहीं की करता भी कैसे ? आज तो मंगलवार है ! हनुमान जी का दिन ! मैं मंगलवार को शेव नहीं करता ! अब क्या होगा ? ये जागरण वाले भी दिन-वार नहीं देखते ! जब जी में आया मेल भेज दी !

तभी मेरा बडा दामाद दूर से ही प्रणाम करने की मुद्रा में झुका-झुका सा आया ! अकड के चलने वाला जवाई राजा भी आज गले लग कर मिला ! बडा अच्छा लगा बडी बेटी पास आकर बोली–“क्या बात है पापा, आप कुछ परेशान से लग रहे हैं ?”

मैंने फोटो वाली समस्या बताई और मंगलवार होने के कारण शेव भी न करवा सकने की मजबूरी जताई ! शक्ल देखकर छोटी बेटी बोली – “पापा आपकी तो कटिंग भी होने वाली है !”

“आपके सारे बाल सफेद हुए पडे हैं !” पत्नी ने याद दिलाया – “डाई भी नहीं लगाई बुड्डे कहीं के !”
पत्नी ने जैसे मेरी दुखती पूंछ पर पैर रख दिया था ! उसके बुड्डे कहने पर मैं भडक उठा ! “बुड्डे होंगे तुम्हारे रिस्तेदार ! इसी ब्लाग पर मेरा व्यंग अभी तो मैं जवान हूं’ तुमने नहीं पढा क्या ? नहीं पढा तो अभी पढो !” क्या आपने भी नहीं पढा ? अरे भाई, मैंने नवीन जी को भी बताया था कि रचन के अंत में जहां पोस्ट योर कमेंट्स लिखा होता है उसके दांई ओर प्रिवियस का बटन है उसे क्लिक कर दें सारी पिछली रचनांए एक एक करके आती जांयगी ! पढिए, मज़े लिजीए और राय दीजिए !

“फिकर नाट पापा ! मैं हूं न ?” यह हमारे दामाद जी के बोलने का अपना स्टाईल है – “आप मेरे साथ चलिए ! ग्रेस वाले को फोन करके मैं अभी एप्वांईंटमेंट ले लेता हूं ! कटिंग, शेव, आई-ब्रो, डाई सब कुछ करवा लेना ! उसके बाद फोटो भी खिंचवा लेंगे”

“ग्रेस ब्यूटी पार्लर तो शहर का सबसे मंहगा पार्लर है ! मैं….भला पार्लर में क्या करने जाऊंगा ?” मैंने सकुचाते हुए कहा ! ”मैं सब संभाल लूंगा ! आप औरतों की तरह शरमाना छोडिये और मेरे साथ कार में चलिए ! फिकर नाट ! मैं हूं न ?” दामाद जी ने फिर कहा !

अब शरमाने के भी अलग-अलग तरीके होते हैं क्या ? मर्दों की तरह कैसे शरमाते हैं मुझे पता न था ! सो चुपचाप दामाद जी की स्विफ्ट डिज़ायर कार में बैठ गया

खुदा-खुदा करके सब काम निपटा कर हम फोटू लेकर घर आ गए ! झट से मेल खोलकर पूरा विवरण भर कर फोटू अटैच करके सेन्ड कर दी ! सिर से एक बोझ सा उतर गया ! परंतु दिल को तसल्ली नहीं हुई ! दोबारा मेल खोल कर देखा ! फिर पढा ! फिर देखा ! ऐसा कई बार करना पडा क्योंकि दिल को तसल्ली ही नही होती थी ! सोचा इसमें थोडी और सिमिट्री बनाकर ज़रा और ज्यादा खूबसूरत ढंग से भेजनी चाहिए ! फिर उसमें थोडी तबदीली की और झट से सेन्ड का बटन दबा दिया ! ओह, बटन दबाने के बाद याद आया कि इसके साथ अटैचमेंट तो भेजी ही नहीं ! सारी मेहनत दोबारा की और अपनी फोटू अटैच करके मेल भेज दी !
तभी छुटकी बिटिया आ गई ! आते ही बोली – “पापा, लाईये मैं आपकी मेल चेक करूं कि उन्होंने आपके बारे में क्या लिखा है !” वो मेल चेक करने लगी ! मैं पास ही स्टूल पर बैठ गया ! बेटी ने सारी मेल ध्यान से पढी ! अंत में एक नोट लिखा था -

नोट: ये मेल आपको जागरण जंक्शन ब्लॉग स्टार कॉंटेस्ट के लिए चयनित टॉप 20 ब्लॉग्स के संदर्भ में भेजी जा रही है. इसका ये अर्थ कतई नहीं है कि आपको विजेता मान लिया गया है. !

मुझे काटो तो खून नहीं ! बेटी मेरी शक्ल देखने लगी ! मुझे कोई कुंआ समझ में नही आ रहा था जहां जाकर मैं अपना मुंह छुपांऊ ! मैंने तो पूरी मेल पढी ही नहीं थी ! मैं तो अपने आप को ही ब्लागस्टार समझ रहा था ! मैं तो कहीं मुंह दिखाने लायक नही रहा ! मैं आफिस के लोगों का सामना कैसे करूंगा ! मैं तो लुट गया ! मैं बरबाद हो गया ! हिसाब लगा कर देखा तो मेरे लगभग 35 हज़ार रूपये गर्क हो चुके थे !

सावधान ! अब मैं सभी ब्लागरों से कह रहा हूं कि मेरे आगे आने की कोई भी हिम्मत न करे ! अब तो मुझे ही ब्लागस्टार बनना पडेगा ! इसलिए अब कोई भी अपनी दावेदारी न जताए ! वरना धर्मेन्द्र का डायलाग आपको याद है न “……? मैं तेरा खून पी जाऊंगा !” चाहे “……..? का खून पीने के बाद मुझे फांसी की सज़ा क्यों न हो जाय ! मुझे पता है कि फांसी की सज़ा मिलने के बाद भी फांसी नहीं हो सकती ! क्योंकि सरकार के पास फांसी देने के लिए जल्लाद ही नहीं है ! मैंने अपनी कविता “मुझे जल्लाद बना दो” में सरकार को जल्लाद बनाने का आवेदन पत्र दिया था पर्ंतु अभी तक कोई जवाब नहीं आया !
इसके साथ ही मैं जागरण वालों को भी चेतावनी देना चाहता हूं कि जागरण वालों यदि चैन से सोना है तो जाग जाओ ! पहला ईनाम मेरे नाम कर दो वरना अदालती कारर्वाही के सारे हर्जे-खर्चे के आप जिम्मेदार होगे !

राम कृष्ण खुराना

99889-27450

http://www.khuranarkk.jagranjunction.ocm



Tags:                               

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (55 votes, average: 4.89 out of 5)
Loading ... Loading ...

101 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

    R K KHURANA के द्वारा
    October 24, 2012

    Is it Virus ?

    Rudra के द्वारा
    October 24, 2012

    यह स्पैम कमेंट लग रहा है. CAPTCHA लगाने के बाद भी कुछ स्क्रिप्ट उन CAPTCHA स्क्रिप्ट को पढ़ लेते हैं और सबसे जयादा व्यू पेज को टारगेट बनाते हैं. आपको जागरण सपोर्ट टीम को बताना होगा.

    R K KHURANA के द्वारा
    October 24, 2012

    प्रिय रूद्र जी, आप ठीक कह रहे है ! ऐसा लगता है कोइ आई दी हैक करने के कोशिश कर रहा है ! और वायरस छोड़ रहा है ! सूचना के लिए धन्यवाद् राम कृष्ण खुराना

    Rudra के द्वारा
    October 24, 2012

    ID इतनी आसानी से नहीं हैक किया जा सकता. यह बस स्पैम कमेंट है. आपके वर्डप्रेस टूल काफी इस तरह के स्पैम रोक देता है लेकिन कभी कभी स्पैम टूल अपडेट न हो थो ऐसे स्पैम कमेंट आने लगते हैं. जागरण जंक्शन टीम इनको रोक सकती है. बस आप उनसे संपर्क करें और ऐसे कमेंट डिलीट भी कर दें.

    R K KHURANA के द्वारा
    October 24, 2012

    Can’t understand

    R K KHURANA के द्वारा
    October 24, 2012

    What is this ?

Lilly के द्वारा
May 26, 2011

That’s way the bestest awnser so far!

    R K KHURANA के द्वारा
    October 24, 2012

    Thank you

Neeraj के द्वारा
May 11, 2011

आप बहुत ही अच्छा लिखते है ……मुझे इस मंच के बारे में दो दिन पहले ही पता लगा , इसलिये पहले आपकी रचनाये पढने का सौभाग्य नहीं मिला पर कल और आज मैंने आपकी काफी रचनाये पढ़ी और सच कहता हु मैंने जितना पढ़ा मेरा मन किया उतना ही पढ़ता जाऊ…….आप कृपया करके बताये आपकी कोई पुस्तक भी प्रकाशित हुए है क्या अगर हुई है तो उसका नाम बताने के कृपा करे………आप ने तो सचमुच मन ही मोह लिया !

    R K KHURANA के द्वारा
    May 11, 2011

    प्रिय नीरज जी, आपने मेरी रचनाएँ पढ़ी और आपको मेरी रचनाएँ अच्छी लगी ! जानकर हर्ष हुआ ! आप इस मंच पर नए है कोइ बात नहीं ! आप मेरी सभी रचनाएँ मेरे ब्लॉग पर जाकर पढ़ सकते है ! मेरी अभी तक कोइ पुस्तक प्रकाशित नहीं हुई है ! इसी मंच पर मेरी साडी रचनाएँ आपको मिल जायंगी ! आप पढ़ कर आनंद ले सकते है ! आपकी प्रतिक्रिया के लिए में आपका दिल से आभारी हूँ ! मेरा ब्लॉग है khuranarkk.jagranjunction.com ID : khuranarkk@yahoo.in राम कृष्ण खुराना

    Karik के द्वारा
    May 26, 2011

    Hey, you’re the goto eexprt. Thanks for hanging out here.

    R K KHURANA के द्वारा
    October 24, 2012

    Who is sending this

    R K KHURANA के द्वारा
    October 24, 2012

    Dear Mr. Karik. Thank you for your comments

Alka Gupta के द्वारा
December 6, 2010

श्री खुराना जी , आपकी रचना में इतना हास्य विनोद है कि पढ़ते पढ़ते कहीं कहीं इतनी हँसी आ रही थी कि  बता नहीं सकती बस……. वाकई बहुत अच्छी हास्य  रचना 

    R K KHURANA के द्वारा
    December 6, 2010

    सुश्री अलका जी, आपने समय निकल कर मेरी रचना “कौन बनेगा ब्लागपति” पढ़ी ! इसके लिए मैं आभारी हूँ ! रचना पढ़ कर आप खूब हंसी ! भगवान करे आप सदा हंसती रहें सदा खुश रहें ! आपके स्नेह के लिए आपका धन्यवाद् राम कृष्ण खुराना

Ramesh bajpai के द्वारा
September 18, 2010

“बुड्डे होंगे तुम्हारे रिस्तेदार ! इसी ब्लाग पर मेरा व्यंग अभी तो मैं जवान हूं’ तुमने नहीं पढा क्या ? नहीं पढा तो अभी पढो !” क्या आपने भी नहीं पढा ? अरे भाई, मैंने नवीन जी को भी बताया था कि रचन के अंत में जहां पोस्ट योर कमेंट्स….. बहुत मजेदार रचना . पर भाई जी डर भी रहा हु .वह डायलाग है न धरमेंदर वाला ;हा ..हा.. हा …

    R K KHURANA के द्वारा
    September 18, 2010

    प्रिय रमेश जी, आपको मेरे हास्य लेख “कौन बनेगा ब्लागपति” ने खूब हास्य जानकर हर्ष हुआ ! भगवान् करे आप इसी तरह हँसते रहे ! प्रतिक्रिया के लिए धन्यवाद ! राम कृष्ण खुराना

Rajan Mishra के द्वारा
July 11, 2010

वाह वाह वाह रुराना तो सब जानते है पर आज के ज़माने में हँसाने वाले कम ही लोग मिलते है , वाकई बहुत अच्छी रचना है. साधुवाद i

    R K KHURANA के द्वारा
    July 12, 2010

    प्रिय राजन जी, आपको मेरी रचना “कौन बनेगा ब्लागपति” अच्छी लगी ! कहते है की हसने से अच्छी और कोइ दवा नहीं है ! इसलिए हसना तो जरूरी है ! प्रतिक्रिया के लिए धन्यवाद् राम कृष्ण खुराना

aditi kailash के द्वारा
July 6, 2010

चाचाजी, बहुत ही मजा आया आपका ये व्यंग्य पढ़कर…. हँसते-हँसते पेट दुःख गया…. सबसे अच्छा वाक्य लगा “यह जो अदिति कैलाश की चाची है ना”…. चाचीजी को हमारा प्रणाम कहियेगा….

    R K KHURANA के द्वारा
    July 7, 2010

    प्रिय अदिति, आपको मेरे व्यंग “कौन बनेगा ब्लागपति” ने खूब हंसाया ! मैं यह जानकर प्रसन्न हुआ ! मेरी नई रचना “कितना आसान है मुर्ख बनाना” आई है ! कृपा इस ;पर भी अपनी राय देना ! धन्यवाद् राम कृष्ण खुराना

    R K KHURANA के द्वारा
    July 7, 2010

    प्रिय अदिति, आपने अपनी चाची को प्रणाम कहा था ! तो मैंने आपका प्रणाम उनको “साष्टांग प्रणाम करके” पंहुचा दिया था ! उन्होंने आपको आशीर्वाद दिया है ! आपको बता दिया ताकि सनद रहे ! राम कृष्ण खुराना

http://jarjspjava.jagranjunction.com के द्वारा
July 3, 2010

चाचा जी नमस्कार, टॉप १० में आने के लिए हार्दिक बधाई एवं आप naahak pareshaan हो रहे हैं आप इस मंच के ब्लॉग स्टार हैं इस बात में कोई शंका नही है.. सभी ब्लोग्गेर्स आपकी रचनाओं को बहुत चाव से पढ़ते हैं..| धन्यवाद, निखिल सिंह

    R K KHURANA के द्वारा
    July 3, 2010

    प्रिय निखिल सिंह जी, टॉप १० की बधाई के लिए आपका बहुत बहुत शुक्रिया ! रही बात परेशान होने की तो आप जौसे अच्छे और सुलझे हुए पाठकों का मुझे इतना स्नेह मिला है की मैं अपने आप को धन्य समझता हूँ ! इस जागरण मंच ने जो दिया है वो मुझे और कहीं से नहीं मिला ! मैं इसके लिए जागरण janction का सदैव ऋणी रहूँगा ! आपकी प्रतिक्रिया के लिए धन्यवाद् राम कृष्ण खुराना

    Caiya के द्वारा
    May 25, 2011

    AKAIK you’ve got the anwser in one!

    R K KHURANA के द्वारा
    May 25, 2011

    Thanks khurana

kmmishra के द्वारा
June 30, 2010

खुराना जी टॉप १० में आने के की लिए बहुत – बहुत बधाई,  टॉप-10 लिस्ट के प्रकाशित होने का पूरा श्रेय आपको जाता है । न आप ब्लागस्टार वाला व्यंग लिखते न जागरण जंक्शन डर कर टॉप-10 की  लिस्ट निकालता । ‘ ’ मैं तेरा खून पी जाऊंगा वाला डायलाग काम कर गया आपका और हम सभी की कुछ पीड़ा शांत हुयी ।

    R K KHURANA के द्वारा
    July 1, 2010

    प्रिय मिश्र जी, टॉप १० में आने के लिए बधाई के लिए आपका शुक्र गुजार हूँ ! इसके साथ आप भी तो बारात में शामिल है ! आपको भी लाख लाख बधाई ! चलो इस लेख के बहाने सबका भला हो गया ! तीसरा विजेता भी घोषित हो गया ! दुल्हे का इंतजार है ! धन्यवाद् राम कृष्ण खुराना

शिवेंद्र मोहन सिंह के द्वारा
June 30, 2010

टॉप टेन में आने के लिए बधाई

    R K KHURANA के द्वारा
    June 30, 2010

    प्रिय शिवेंद्र मोहन जी, टॉप 10 में आने पर बधाई के लिए आपका आभारी हूँ ! यह आप लोगों का प्यार, बड़ो का आशीर्वाद और इश्वर की कृपा का फल है ! धन्यवाद राम कृष्ण खुराना

ashutosh के द्वारा
June 30, 2010

खुराना चाचा जी पहले तो टॉप १० में आने के की लिए बहुत – बहुत बधाई बहुत ही अच्छा लेख !!!!!!!!!! डोंट वोर्री पहला इनाम आपके ही नाम है

    R K KHURANA के द्वारा
    June 30, 2010

    प्रिय आशुतोष जी, टॉप १० की बधाई के लिए तह दिल से शुक्रिया ! पहला इनाम चाहे जिसे भी मिले परन्तु आप लोगो का जो प्यार मुझे मिला है उसका कोइ मोल नहीं ! मैं आप सबका बहुत आभारी रहूँगा ! “कौन बनेगा ब्लागपति” आपको अच्छी लगी ! धन्यवाद् ! रामकृष्ण खुराना

rita singh' sarjana' के द्वारा
June 30, 2010

नमस्कार, खुराना अंकल जी, टॉप १० में आने के लिए बहुत -बहुत बधाई आपको .सच कहू तो आपकी रचनाओं को मैंने पदी नहीं थी .जब ‘;कौन बनेगा ब्लोग्पति ‘ पदी तो मुझे पछतावा हुवा . हाँ अब मैं आपके बाकि रचनाओं को भी पडूँगी . आपकी सक्रियता को देख कर हमें प्रेरणा मिलती हैं .

    R K KHURANA के द्वारा
    June 30, 2010

    प्रिय रीता जी, अपने मेरी रचना “कौन बनेगा ब्लागपति” पढ़ी” आपको अच्छी लगी ! मेरा लिखना सफल हो गया ! टॉप १० में आने के लिए भधाई के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद् ! कृपया स्नेह बनारे रखें ! राम कृष्ण खुराना

    R K KHURANA के द्वारा
    June 30, 2010

    प्रिय रीता जी, आपने लिखा है की आप मेरी पहले की रचनाये पढ़ नहीं पाई और आपको पछतावा है ! तो पछताने की क्या आवश्यकता है ! अप अब पढ़ सकती हैं ! जो टॉप १० की लिस्ट है उसमे मेरी फोटो पर क्लिक करेंगे तो मेरी सारी रचनायों की लिस्ट आ जायगी ! अप सभी रचनायों का आनंद उठईए और अपनी प्रतिक्रिया दीजिये ! धन्यवाद् राम कृष्ण खुराना

R K KHURANA के द्वारा
June 29, 2010

प्रिय नवीन जी, आप जब कमेंट्स का बोक्स खोलते हैं तो उसमे दाईं और तीन चीजे लिखी होती हैं ! इंग्लिश – हिंदी – हिंगलिश ! आप हिंगलिश पर क्लिक्क करें ! फिर जब इंग्लिश में लिख कर स्पेस दबायेंगे तो वो अपने आप हिंदी में बदल जायेगा ! जैसे आप meri लिखेंगे तो वो मेरी में बदल जायगा ! इसी प्रकार आप आगे भी लिख सकते हैं ! आप शुरू तो कीजिये ! राम कृष्ण खुराना

R K KHURANA के द्वारा
June 29, 2010

प्रिय ब्लागर्स मुझे कई लोगो ने कहा है की वे मेरे पिछले व्यंग व लेख पढना चाहते हैं ! तो अब आप जो टॉप १० की लिस्ट है उसमे मेरी फोटो पर क्लिक करेंगे तो मेरी सारी रचनायों की लिस्ट आ जायगी ! अप सभी रचनायों का आनंद उठा सकते है ! धन्यवाद् राम कृष्ण खुराना

R K KHURANA के द्वारा
June 29, 2010

प्रिय ब्लागर्स जैसे की मैंने अपने लेख “कौन बनेगा ब्लागपति” में कहा है यहाँ पर लाईट का बुरा हाल है ! आजकल चावल की बिजाई हो रही है ! कई कई घंटें लाईट नहीं आती ! इसलिय मैं आप लोगो की प्रतिक्रियायों का उत्तर समय से नहीं दे पा रहा हूँ ! और न ही आप लोगो की रचनायों पर अपनी प्रतिक्रिया दे पा रहा हूँ ! माफी चाहता हूँ ! जब भी लाईट आते है मैं समय निकाल कर उत्तर देता है ! राम कृष्ण खुराना

rkpandey के द्वारा
June 29, 2010

नमस्कार , खुराना जी एक ब्लॉग स्टार को मेरी बधाई स्वीकार हो! आप ने अपनी कलम की ताकत से आखिरकार यह मुकाम हासिल कर ही लिया. मुझे आशा है कि भविष्य में भी आपके रोचक, तेजतर्रार और रचनात्मक विचारों से साक्षात्कार होता रहेगा. एक नौसिखुआ लेखक

    R K KHURANA के द्वारा
    June 29, 2010

    प्रिय पांडे जी, टॉप १० में आने पर आपकी बढाए के लिए धन्यवाद् ! मैं आपको विश्वास दिलाता हूँ की मैं इसी प्रकार से साहित्य सेवा करता रहूँगा ! धन्यवाद् राम कृष्ण खुराना

    R K KHURANA के द्वारा
    June 29, 2010

    प्रिय पांडे जी, आपने अपने आप को नौसिखिये कहा है ! तो जब कोइ शक्श नया काम शुरू करता है तो वो नो सिखिया ही होता है ! परन्तु करत करत अभ्यास के वो सिद्ध बन जाता है ! तो धरी रखी वो दिन भी आयेगा जब आपका नाम भी blogstar की लिस्ट में आयेगा ! मेरी शुभकामनाये ! राम कृष्ण खुराना

NAVEEN KUMAR SHARMA के द्वारा
June 29, 2010

नमस्कार खुराना जी, सबसे पहले आपको अंतिम १० में आने की ढेर सारी बधाइयाँ खुराना जी आपको सिर्फ़ ऊपर की लाईनें ही पढनी चाहिए थी नीचे की नहीं वैसे कोई बात नहीं आप हमारे लिए किसी ब्लॉग स्टार से कम भी नहीं हैं वैसे यह कोई आश्चर्य की बात नहीं है कि आप अंतिम दस में आये क्योंकि आपमें वो गुण हैं जो एक ब्लॉग स्टार में होने चाहिए सर क्या मैं आपको चाचा जी कहकर बुला सकता हूँ? चाचा जी मैं अपना गागर वाला कम रविवार को हरिद्वार में कर आया हूँ. नवीन कुमार शर्मा बहजोई (मुरादाबाद) मोबाइल नम्बर – ०९७१९३९०५७६ NAVEEN_SHAGUN@REDIFFMAIL.COM

    R K KHURANA के द्वारा
    June 29, 2010

    प्रिय नवीन जी, टॉप १० की बधाई के लिए आपका आभारी हूँ ! अपने गागा वाला काम कर दिया है १ अच्छा किया ! परमात्मा आपको सफलता प्रदान करें ! मेरा आशीर्वाद आपके साथ है ! राम कृष्ण खुराना

    R K KHURANA के द्वारा
    June 29, 2010

    प्रिय नवीन जी, आपके चाचा कहने पर मुझे कोइ इतराज नहीं है ! इसमें तो आपका प्यार ही है जिसका मैं भूखा हूँ ! धन्यवाद् राम कृष्ण खुराना

    Brenley के द्वारा
    May 26, 2011

    You’re the greeatst! JMHO

Rita Singh, 'Sarjana' के द्वारा
June 29, 2010

आदरणीय चाचाजी , सच मानिये तो मैंने पहली बार आपका लेख पदा हैं , अब पछता रही हूँ कि पहले क्यों नहीं पदी बाकि कि रचनाये . खैर अब पडूँगी .आपकी व्यंग रचना पड़कर खूब मजा आया .हरा-भरा पंजाब की महक में बात जरुर हैं .सच, पंजाब की लस्सी ,सरसों का साग और मक्की की रोटी साथ में लबली स्वीट्स की मिठाइयाँ आ हा हा ……क्या कहने .अच्छी रचना लिखने के लिए ढेरो बधाई .

    R K Khurana के द्वारा
    July 4, 2010

    प्रिय रीता जी, क्षमा कीजियेगा ! मैं आपकी इस टिप्पणी का पहले उत्तर नहीं दे पाया ! पता नहीं क्यों इसका उत्तर देना रह गया ! आज जब दोबारा नज़र डाल रहा था तो देखा की इस का मैंने आपको उत्तर नहीं दिया है ! वैसे मैंने आपकी दूसरी प्रतिक्रिया का उत्तर दिया था शायद इसी गलती से रह गयी होगी ! फिर माफ़ी चाहता हूँ ! आपकी टिप्पणी से लगता है की आप या जालंधर की या लुधियाना की रहने वाली है ! क्या मैं ठीक कह रहा हूँ ! आपकी प्रतिक्रिया के लिए बहुत बहुत धन्यवाद् ! राम कृष्ण खुराना

    R K Khurana के द्वारा
    July 4, 2010

    प्रिय रीता जी, आपने लिखा है की आप मेरी पहले की रचनाये पढ़ नहीं पाई और आपको पछतावा है ! तो पछताने की क्या आवश्यकता है ! अप अब पढ़ सकती हैं ! जो टॉप १० की लिस्ट है उसमे मेरी फोटो पर क्लिक करेंगे तो मेरी सारी रचनायों की लिस्ट आ जायगी ! अप सभी रचनायों का आनंद उठईए और अपनी प्रतिक्रिया दीजिये ! धन्यवाद् राम कृष्ण खुराना

    Sharky के द्वारा
    May 26, 2011

    You’re on top of the game. Thanks for shranig.

ajaykumarjha1973 के द्वारा
June 29, 2010

खुराना जी ……..आपको भी मेरी तरह सिर्फ़ ऊपर की लाईनें ही पढनी चाहिए थी …..क्या जरूरत थी आखिरी लाईनें पढने /पढाने की । हा हा हा आप तो स्टार हैं ही जी हम सबके लिए

    R K KHURANA के द्वारा
    June 29, 2010

    प्रिय अजय जी, हाँ मैंने नीचे के लाईने पढने के गलती की और उसी का परिणाम यह “कौन बनेगा ब्लागपति” है इतना सम्मान देने के लिए आपको धन्यवाद् १ राम कृष्ण खुराना

mihirraj2000 के द्वारा
June 28, 2010

खुराना जी आपको अंतिम १० में आने की ढेरो बधाइयाँ.. वैसे ये मेरे लिए कोई आश्चर्य की बात नहीं थी आप पूर्णतः सारी योग्यता रखते है. आपको मैंने पहले ही सर्वोत्तम कह दिया है. शुभकामनाये.

    R K KHURANA के द्वारा
    June 29, 2010

    प्रिय मिहिर जी, मैं इस जागरण जंक्शन का बहुत आभारी हूँ जिसने मुझे आप जैसे स्नेही दिए ! अप सब लोगो का इतना प्यार मिला कि मैं शब्दों में बयाँ नहीं कर सकता ! मैं आप सब लोगो के प्यार के लिए हृदय से आभारी हूँ ! टॉप १० में आने के लिए आपको भी ढेर साड़ी बधाइयां ! मेरा आशीर्वाद आप लोगो के साथ है ! धन्यवाद् राम कृष्ण खुराना

sumityadav के द्वारा
June 28, 2010

बहुत ही धांसू व्यंग्य खुराना जी। टॉप-10 में आने के लिए बहुत बहुत बधाई।

    R K KHURANA के द्वारा
    June 29, 2010

    प्रिय सुमित जी, मेरे व्यंग “कौन बनेगा ब्लागपति” के लिए आपका स्नेह मिला ! बहुत धन्यवाद् टॉप १० की बधाई के लिए तह दिल से शुकार्गुजर हूँ ! राम कृष्ण खुराना

nikhil के द्वारा
June 28, 2010

टॉप टेन में चयन होने के लिए आपको हार्दिक बधाई और शुभकामनाये…

    R K KHURANA के द्वारा
    June 29, 2010

    प्रिय निखिल जी, आपकी बधाई के लिए आपका आभारी हूँ ! यह आप लोगो के प्यार का ही फल है ! धन्यवाद् राम कृष्ण खुराना

allrounder के द्वारा
June 28, 2010

आदरणीय खुराना साहब, आप अगर अपना ये लेख पहले लिख देते तो टॉप – १० की लिस्ट पहले न आ जाती, वाह क्या दवाव बनाया आपके लेख ने ! टॉप – १० बारातियों मैं आपका स्वागत हैं, अब तो मुझे भी यकीन हो चला है की बुड्ढ़े बारात मैं जायेंगे, और जवानों का व्याह रचवायेंगे ! आपको, और मेरे सभी साथियों को जो, अंतिम १० मैं शामिल किये गए हैं, मेरी तरफ से हार्दिक बधाई, और आगे के लिए Good Luck !

    R K Khurana के द्वारा
    June 29, 2010

    प्रिय सचिन जी, प्यारे भतीजे, वक्त से पहले और किस्मत से ज्यादा कुछ भी नहीं मिलता ! सब्र का फल मीठा होता है मैंने तो पहले ही कहा था की बारात में बुढ्ढे भी जायंगे ! चलो खैर बारात पूरी हुई ! आगे देखिये !

    R K Khurana के द्वारा
    June 29, 2010

    प्रिय सचिन जी, मेरी तरह से “दुल्हे” सहित सभी बारातियों को लाख लाख बधाई ! सभी को मेरा आशीर्वाद ! शुभकामनाये ! राम कृष्ण खुराना

razia mirza के द्वारा
June 28, 2010

खुरानाजी आपको बधाई टोप 10 में स्थान मिलने पर।

    R K KHURANA के द्वारा
    June 28, 2010

    प्रिय रज़िया जी, आपका नाम टॉप 10 में देखकर बहुत प्रसन्नता हुई ! आपको भी बहुत बहुत मुबारक ! बधाई के लिए आपका धन्यवाद ! राम कृष्ण खुराना

शिवेंद्र मोहन सिंह के द्वारा
June 28, 2010

हा हा हा …बहुत सुंदर ब्लॉग अपनी व् अपने घर की सारी पोलपट्टी खोली है आपने….हँसते हँसते पेट दुःख गया….साथ ही साथ मिश्रा जी की भी पोल पट्टी खोल दी आपने …..बहुत सुंदर ब्लॉग.

    R K KHURANA के द्वारा
    June 28, 2010

    प्रिय शिवेंद्र जी, आपको मारा व्यंग “कौन बनेगा ब्लागपति” बहुत पसंद आया ! मैं धन्य हो गया ! प्रतिक्रिया के लिए धन्यवाद् राम कृष्ण खुराना

    Marilu के द्वारा
    May 26, 2011

    Toucdohwn! That’s a really cool way of putting it!

shaardeshkchaurasia के द्वारा
June 28, 2010

अंकल जी आपने तो हँसा हँसा कर लोट पोट कर दिया. एक और अच्छी पोस्ट के लिए हार्दिक बधाई.

    R K KHURANA के द्वारा
    June 28, 2010

    प्रिय शार्देश जी, आपको मेरी रचना “कौन बनेगा ब्लागपति” ने खूब हंसाया ! जानकर मुझे बहुत अच्छा लगा ! आपकी प्रतिक्रिया के लिए धन्यवाद् राम कृष्ण खुराना

Chaatak के द्वारा
June 28, 2010

चाचा जी, जवाब नहीं आपका | क्या धाँसू “आइटम नंबर” का माफिक पोस्ट मारा है! पूरा पोस्ट इतने सुर ताल में है कि चाहे तो माधुरी से कत्थक करवा लो चाहे राखी सावंत से ठुमके लगवा लो सब पर सूट करेगा | बेचारे टॉप ब्लोगर तो छिपते फिरेंगे ‘चुपचाप छिपे रहो वर्ना खुराना चाचा खून पी जायेगा’ “पत्नी ने जैसे मेरी दुखती पूंछ पर पैर रख दिया था ! उसके बुड्डे कहने पर मैं भडक उठा ! “बुड्डे होंगे तुम्हारे रिस्तेदार ! इसी ब्लाग पर मेरा व्यंग ‘अभी तो मैं जवान हूं’ तुमने नहीं पढा क्या ? सबसे मजेदार लाइन थी | इतनी अच्छी पोस्ट के लिए बधाई!

    R K KHURANA के द्वारा
    June 28, 2010

    प्रिय चातक जी, अपको मेरा व्यंग “कौन बनेगा ब्लागपति” पसंद आया ! धन्यवाद् ! राम कृष्ण खुराना

kmmishra के द्वारा
June 28, 2010

देखा जल्दी का काम शैतान का काम होता है । खुराना जी खून पीने के लिये आपको तरसना नहीं पड़ेगा क्योंकि अदितिजी तो वैसे ही जरूरतमंदों को खून डोनेट करने को तत्पर रहती हैं । बाकी व्यंग तो इतना मारू है कि हंसते हंसते लोटपोट हो गया हूं । ‘फोटू अपलोड भवः’ वाला मंत्र तो वाकई में गजब का है लेकिन भगवान शंकर जी ने आपसे चुगली करके अच्छा नहीं किया । अपने क्लाइंटों के सिक्रेट्स इस तरह ओपन नहीं करने चाहिये । इसी बहाने आपने अपने पिछले व्यंग लेखों की लिस्ट भी हमे दे दी कि बच्चा लोग अब तो पढ़ लो क्या पता ब्लागस्टार होने के बाद फिर वह सब लेख जागरण जंक्शन की प्रापर्टी हो जायें । आभार ।

    R K KHURANA के द्वारा
    June 28, 2010

    प्रिय मिश्र जी, “कौन बनेगा ब्लागपति” में आपकी टिपण्णी मिली ! इस व्यंग को “मारू” व्यंग की उपाधि देने के लिए मैं आपका भुत आभारी हूँ ! अदिति बिटिया जो खून डोनेट कर रही वो मेरे काम का नहीं है क्योकि मुझे तो “………?” का खून पीना है ! फोटू अपलोड भाव वाला मंत्र तो शंकर भगवन ने विशेष रूक से आपको आपकी तपस्या से प्रसन्न होकर दिया था ! यह बात हमारे जासूसों ने हमें बताई थी ! शंकर भगवन जी ने नहीं ! प्रतिक्रिया के लिए धन्यवाद् शब्द छोटा पड जायगा ! क्या कहूं ? राम कृष्ण खुराना

    R K KHURANA के द्वारा
    June 28, 2010

    प्रिय मिश्र जी, मेरे व्यंग “कौन बनेगा ब्लागपति” पर टिपण्णी करते हुए आपने कहा है की मैंने व्यंग लेखो की लिस्ट थमा दी ! तो यह लिस्ट तो महज एक बानगी है ! रचनाये तो बहुत हैं ! लगभग 50 तो इसी ब्लॉग पर पोस्ट है ! यदि समय मिले तो अवश्य padhna aur apne vichar dena ! Dhanyawad ! Ram Krishna Khurana

bhaijikahin के द्वारा
June 28, 2010

प्रिय श्री खुराना जी, धर्मेन्‍द्र के स्‍टाइल में धमकी देने की क्‍या जरूरत थी । आप तो वैसे ही आदरणीय है व सदा सबसे आगे ही रहेंगें । गलती तो मेल भेजने वाले की है कि उसने विशेष टिप्‍पणी नोट के रूप में संलग्‍न कर दी । आप ऐसा करिए कि दावा डाल दीजिए 50000 का ताकि 35000 की राशि तो वसूल हो । क्‍यों नहीं जागरण ने मेल में सबसे ऊपर यह नोट डाला, ऐसा उन्‍होंनें धोखा देने व हलवाई के साथ मिलकर कुछ कमाने की नीयत से किया ताकि जिन जिन ब्‍लागर्स को उन्‍होनें यह मेल भेजी वे सभी आपकी तरह कुछ खर्च करें और प्राप्‍त कमीशन से जागरण पुरस्‍कार का वितरण कर सके । खैर सच्‍ची जानकारी देने के लिए शुक्रिया । मैं सावधान हो गया हूँ । बेहतरीन रचना, एक अच्‍छे व मौलिक व्‍यंग्य के लिए बधाई ।

    R K KHURANA के द्वारा
    June 28, 2010

    प्रिय अरविन्द जी, मेरी हास्य कथा “कौन बनेगा ब्लागपति” पर आपके विचार मिले ! अपने ठीक कहा है यह जागरण वालो की ही चाल है ! मुझे केस तो करना लही पड़ेगा ! कोइ अच्छा सा वकील करना पड़ेगा ! खोज कर बताना ! आपको लेख पसंद आया ! धन्यवाद् १ राम कृष्ण खुराना

    R K KHURANA के द्वारा
    June 28, 2010

    प्रिय पारीक जी, “कौन बनेगा ब्लागपति” में आपने कहा है की आप सावधान हो गए है ! तो सावधान होने की कोइ जरूरत नहीं है क्योंकि मैं तो शाकाहारी हूँ ! वैसे भी हम तो आपके बहुत शुक्र गुजार है ! आपने हमें जो आफ लाइन हिंदी टाइपिंग का तोहफा दिया है ! आपका बहुत बहुत धन्यवाद् राम कृष्ण खुराना

razia mirza के द्वारा
June 28, 2010

मज़ा आ गया खुरानासाहब। आपने तो सभी ब्लोगरों का हले दिल सुना दिया। इन सब मॆं एक लाइन पर तो खूब हँसना भी आया कि” मेरे इतने लम्बे-चौडे लैक्चर को सुनकर पत्नी बोर हो गई और आंखे तरेर कर बोली – “आपकी कोई नई-नई शादी हुई है क्या जो आपकी फोटो घर में सजा कर रखी होगी !” वाह जनाब आपने तो कमाल ही कर दिया। भाभीजी को भी प्रणाम देना

    R K KHURANA के द्वारा
    June 28, 2010

    प्रिय रज़िया जी, “कौन बनेगा ब्लागपति” में मेरा हाले दिल सुनकर आपको मज़ा आया तो मैं आप सब को सलाम करता हूँ ! लिखने का अर्थ यही है की उसका भरपूर मनोरंजन उठाया जाय ! उससे कोइ शिक्षा ली जाय ! मैं तहे दिल से आपका शुक्र गुजर हूँ ! राम कृष्ण खुराना

    R K KHURANA के द्वारा
    June 28, 2010

    प्रिय रज़िया जी, हाँ ! आपकी भाभी जी को भी यह ब्लाग पढने के लिए कहूँगा ! और आपने जो आदर दिया है वो भी उन तक पहुंचा दूंगा ! इतना सत्कार देने के लिए आपका धन्यवाद् ! राम कृष्ण खुराना

R K KHURANA के द्वारा
June 28, 2010

प्रिय निखिल जी, आपकी जो भी रचना आती है मैं कोशिश करता हूँ की प्रतिक्रिया अवश्व दूं ! मैं हर रचना जो मुझे जैसे लगती है उस पर अपनी प्रतिक्रिया देता हूँ ! आगे भी देता रहूँगा ! राम कृष्ण खुराना

Nikhil के द्वारा
June 28, 2010

हा.हा.हा. मज़ा आ गे अंकल जी. बहुत अच्छी प्रस्तुति. मैं तो टॉप २० मैं हूँ ही नहीं तो पीछे हटने का सवाल ही नहीं उठता.. मेरे लेखों पर आपके विचार की बहुत प्रतीक्षा कर रहा हूँ मैं. आपके प्रतिक्रिया से बहुत साहस मिलता है. अपनी प्रतिक्रिया दे हमेशा अनुग्रहित करते रहे. आपका विश्वासी, निखिल झा

    R K KHURANA के द्वारा
    June 28, 2010

    प्रिय निखिल जी, मेरी हास्य रचना “कौन बनेगा ब्लागपति” पढ़कर आपको मज़ा आया ! मैं धन्य हो गया ! इस बार आप टॉप २० में नहीं है तो क्या हुआ ! आगे भी बहुत से मौके आएंगे ! इश्वर से प्रार्थना है की आप खूब तरक्की करें ! मेरा आशीर्वाद !

allrounder के द्वारा
June 28, 2010

आदरणीय खुराना साहब, आपका लेख पढ़ कर मैं लाइन मैं सबसे पीछे खड़ा हो गया हूँ! न मुझे धरमेंदर के dailog सुनना है ! क्योंकि मुझमें खून की भी बहुत कमी है, इसलिए मैं ये किसी और को नहीं पीने दूंगा ! मजा आया लेख पढ़ कर दिल खुश कीता जी !

    R K KHURANA के द्वारा
    June 28, 2010

    प्रिय सचिन जी, “कौन बनेगा ब्लागपति” पढ़ कर आपको मज़ा आया तो मेरा लिखना सार्थक हो गया ! आपकी प्रतिक्रिया के लिए आपका बहुत बहुत शुक्रिया ! आप लोगो का मनोरंजन करना ही मेरा उधेश्य है ! यानि की पप्पू पास हो गया ! धन्यवाद् राम कृष्ण खुराना


topic of the week



latest from jagran