KADLI KE PAAT कदली के पात

चतुर नरन की बात में, बात बात में बात ! जिमी कदली के पात में पात पात में पात !!

81 Posts

3601 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 875 postid : 60

सच्चा प्यार -(हास्य)

Posted On: 9 Apr, 2010 में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

सच्चा प्यार

राम कृष्ण खुराना

मैं सुनाने जा रहा हूँ,
आपको एक कहानी मज़ेदार !
एक पति-पत्नी में था बहुत प्यार !
कभी वे लड़ते,
कभी वे झगड़ते,
कभी मान-मनुवल करते,
फिर भी आपस में करते थे
वे सच्चा प्यार !
एक दिन अचानक किसी बात पर
दोनों के बीच हो गयी तकरार !
एक दूसरे की बात गुजरी
दोनों को नागवार !
उन के बीच बोलचाल हो गयी बंद !
दोनों ही अपने को समझते थे
ज्यादा  अकलमंद !
समय बीतता गया परन्तु
दोनों अपनी जिद पर अड़े रहे,
पहले कौन बोले यही सोच कर
चुप पड़े रहे !
इस तरह से दोनों को बिना
एक दूसरे से बात किये
बीत गए सात साल !
आप कहेंगे कि इसमें क्या है
मज़ेदार बात !
यह तो है घर घर का हाल !
परन्तु यह सुनकर
हैरान हो जायेंगे आप !
सात साल तक दोनों की
बोलचाल रही बंद !
मगर वे करते थे
एक दूसरे से सच्चा प्यार !
इस चुप्पा-चुप्पी में
बिना एक दूसरे से बोले
सात सालों में वे दोनों
बन गए तीन बच्चों
के माँ-बाप !

राम कृष्ण खुराना

9988950584

khuranarkk@yahoo.in

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (40 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

18 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Ramesh bajpai के द्वारा
September 12, 2010

सच प्यार इसी को कहते है हा हा हा .

    R K KHURANA के द्वारा
    September 14, 2010

    प्रिय रमेश जी, जी हाँ ! सच्छे प्यार की यही निशानी है ! आपकी प्रतिक्रिया के लिए धन्यवाद राम कृष्ण खुराना

Susheel Mahajan के द्वारा
May 29, 2010

सच ऐसा भी होता है क्या ? शायद सच्चा प्यार इसी को कहते है !

    R K KHURANA के द्वारा
    May 29, 2010

    Dear Subhash Ji, Yes, it is called “Sachha Pyar” Thanks for your comments. khurana

Ashish Jain के द्वारा
May 29, 2010

इसको कहते हैं सच्चा प्यार ! हा हा हा !

    R K KHURANA के द्वारा
    May 29, 2010

    Dear Mr. Ashish, Thanks for your comments. regards khurana

Gautam के द्वारा
April 15, 2010

वाकई सच्चा प्यार है

    R K KHURANA के द्वारा
    April 16, 2010

    प्रिय गौतम जी, धन्यवाद् ! शायद इसी को सच्चा प्यार कहते हैं !

शिवेंद्र मोहन सिंह के द्वारा
April 11, 2010

हा हा हा …बड़ा ही सच्चा प्यार था ….

    R K KHURANA के द्वारा
    April 12, 2010

    प्रिय शिवेंद्र जी, धन्यवाद, रचना आपको अच्छी लगी मेरी मेहनत सफल हो गयी !

ARVIND PAREEK के द्वारा
April 10, 2010

खुरानाजी, वैसे पूछना तो नहीं चाहिए लेकिन कौन थे ये प्रेमी? बहुत अच्छी कविता है ये. लगे रहिये.

    R K KHURANA के द्वारा
    April 12, 2010

    प्रिय पारीक जी, धन्यवाद, कविता का आनंद लीजिये ! इनके बारे में पूछ कर काया करेंगे ? फिर भी आपकी जिज्ञाषा शांत करने के लिए बता दूं कि यह दम्पति इंग्लॅण्ड में रहते हैं !

NIKHIL PANDEY के द्वारा
April 10, 2010

वाह सर अच्छा लगा ये प्यार

    R K KHURANA के द्वारा
    April 12, 2010

    प्रिय निखिल जी, धन्यवाद, आप लोगों की शुभकामनाये मिलती रहें यही इच्छा है !

ASHISH RAJVANSHI के द्वारा
April 9, 2010

hi dear, again a big hit thanks

    R K KHURANA के द्वारा
    April 12, 2010

    Dear Ashish, Thanks for your comments.

mihirraj2000 के द्वारा
April 9, 2010

खुराना जी कविता पढ़ कर वास्तव में मजा आ गया..क्या प्यार है और सबसे महत्वपूर्ण कितना गहरा.. हा हा हा….बधाई…

    R K KHURANA के द्वारा
    April 9, 2010

    आपकी प्रतिक्रिया के लिए आपको बहुत-बहुत धन्यवाद ! कृपया स्नेह बनाये रखें ! मेरे ब्लॉग में कुछ अन्य रचनाये भी प्रकाशित हुईं हैं ! शायद आपको पसंद आयेंगी !


topic of the week



latest from jagran